Metro Plus News
फरीदाबादराजनीतिहरियाणा

प्रदेश सरकार ने फरीदाबाद जिले की अनदेखी करनी शुरू कर दी है: विकास चौधरी

नवीन गुप्ता
फरीदाबाद, 27 जनवरी:
हरियाणा में सर्वाधिक राजस्व देने एवं पूरे देश में औद्योगिक नगरी के रूप में पहचाने जाने वाले फरीदाबाद जिले की भाजपा सरकार द्वारा 66वें गणतंत्र दिवस पर हुई अनदेखी को लेकर विपक्षी दलों में गहरा रोष व्याप्त हो गया है। 15 अगस्त, 1979 से अस्तित्व में आए फरीदाबाद जिले में यह पहला मौका था, जब जिलास्तरीय समारोह में सरकार के किसी मंत्री की बजाए अधिकारी ने ध्वजारोहण किया हो। प्रदेश की भाजपा सरकार पर सीधा हमला बोलते हुए इनेलो के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व युवा जिलाध्यक्ष विकास चौधरी ने कहा है कि फरीदाबाद जिला लगभग 15 हजार करोड़ (केंद्रीय एवं राज्य स्तरीय सालाना कर) देता है, ऐसे क्या फरीदाबाद जिला 8वें व 10वें नंबर पर भी नहीं है क्या? उन्होंने कहा कि जब प्रदेश में इनेलो की सरकार थी, जब भी यही प्रशासनिक ढांचा होता था और इतने ही मंत्री होते थे परंतु तत्कालीन समय में भी यहां गणतंत्र दिवस समारोह में मंत्रियों ने ही शिरकत करके ध्वजारोहण किया। श्री चौधरी गणतंत्र दिवस पर सेक्टर-7, सेक्टर-4, राम नगर और मिल्हार्ड कालोनी में आयोजित समारोहों में उपस्थित लोगों को संबोधित कर रहे थे।
श्री चौधरी ने कहा कि चुनावों के दौरान भाजपा के नेता यह कहते नहीं थकते थे कि सरकार आने पर फरीदाबाद को उसका खोया हुआ स्वरूप लौटाया जाएगा और इस जिले के मान-सम्मान में कोई कसर नहीं छोड़ी जाएगी परंतु गणतंत्र दिवस समारोह में हुई जिले की अनदेखी ने भाजपा सरकार की कथनी और करनी को पूरी तरह से उजागर कर दिया है। उन्होंने कहा कि वह अधिकारियों का सम्मान करते है परंतु फरीदाबाद जैसे बड़े जिले में इतने बड़े स्तर पर आयोजित होने वाले समारोह में सरकार के नुमाइंदे का उपस्थित होना अनिवार्य था।
श्री चौधरी ने कहा कि प्रदेश में भाजपा की सरकार बने अभी करीब तीन माह ही हुए है और प्रदेश सरकार ने फरीदाबाद जिले की अनदेखी करनी शुरू कर दी है और गणतंत्र समारोह में किसी मंत्री का न आना इसका जीता जागता उदाहरण है और सरकार की इस अनदेखी से यह साबित होता है कि सरकार की नजर में फरीदाबाद जिले की कोई अहमियत नहीं है। उन्होंने कहा कि जब प्रदेश स्तर पर ध्वजारोहण को लेकर पूरे प्रदेश की सूची जारी की जा रही थी तो उस दौरान तीनों भाजपा विधायकों को मुख्यमंत्री के समक्ष यह बात रखनी चाहिए थी कि फरीदाबाद बड़ा जिला है, इसलिए इस जिले में ध्वजारोहण समारोह में किसी मंत्री का आना अनिवार्य किया जाए। परंतु स्थानीय सत्तारूढ़ विधायकों ने भी इस मामले में पूरी तरह से चुप्पी साध ली।
उन्होंने कहा कि अगर इसी तरह से फरीदाबाद की अनदेखी होती रही तो आने वाले दिनों में फरीदाबाद जिला विकास के मामले में निरंतर पिछड़ जाएगा। उन्होंने कहा कि पिछले चार माह में अभी तक कहीं पर भी विकास के नाम पर एक ईट तक नहीं लगी है, लोग नगर निगम में अपने कामों के लिए जाते है तो अधिकारी उनके समक्ष पैसा न होने का रोना रो देते है। उन्होंने कहा कि जगह-जगह सीवरेज जाम होने लगे है, गंदगी पनप रही है परंतु सरकार व अधिकारी इस ओर ध्यान देने को तैयार नहीं है।
इस अवसर पर उनके साथ गौरव विरमानी, ब्रह्मप्रकाश गोयल, गुरूदीप सिंह, राधेश्याम कुकरेजा, काला प्रधान, गोल्डी भाई, पंकज सिंह, सुखविन्द्र सिंह, बॉबी, श्याम शर्मा, अजय मल्होत्रा, सोनू गुप्ता, मुन्नी प्रधान, हरिचंद, गौतम, कृष्ण कुमार, इम्तियाज अली, डा. सैफी व काका मुख्य रूप से मौजूद थे।Vikas chaudhary

Vikas chaudhary-2

Related posts

शिक्षा के मामले में तिगांव विधानसभा क्षेत्र बहुत आगे बढ़ रहा है: राजेश नागर

Metro Plus

रेडक्रॉस सोसाइटी द्वारा बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में लोगों के लिए किया जा रहा है खाने का उचित प्रबंध: विक्रम यादव

Metro Plus

Manohar Lal addressing the gathering after distribution of aids and appliances to physically challenged persons in a function at Karnal

Metro Plus