Metro Plus News
फरीदाबादहरियाणा

कौन है मनीष उर्फ कन्हैया जिसको पटाखे बेचते NIT पुलिस ने किया गिरफ्तार?

Metro Plus से Naveen Gupta की रिपोर्ट।
Faridabad News, 8 नवंबर:
गैस का चैंबर बन चुके दिल्ली एनसीआर में दमघोंटू वायु प्रदुषण के चलते सुप्रीम कोर्ट ने पटाखे बेचने व चलाने पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगाया हुअ है सिवाय ग्रीन पटाखों के। बावजूद इसके पटाखे बेचे व फोड़े जा रहे है जिससे वायु प्रदुषण लगातार खराब होता जा रहा है।
इसी के चलते पटाखों की बिक्री पर रोक लगाने के लिए पुलिस कमिश्रर राकेश कुमार आर्य के निदेर्शो पर डीसीपी एनआईटी अमित यशवर्धन ने पूरे एनआईटी में सख्ती बरती हुई है। गैर-कानूनी रूप से पटाखे बेचने वालों पर पूरी नजर रखी जा रही है। इसी क्रम में थाना एनआईटी एसएचओ सुशीला की टीम ने गैर-कानूनी रूप से पटाखे बेचते हुए एक युवक को पटाखों के कई कट्टों सहित गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है।

थाना एनआईटी एसएचओ सुशीला ने बताया कि गिरफ्तार किया गया आरोपी मनीष कुमार उर्फ कन्हैया एनआईटी-5ए/63 फरीदाबाद का रहने वाला है। आरोपी को थाना एनआईटी पुलिस की टीम ने अपने गुप्त सूत्रों से प्राप्त सूचना के अधार पर उसकी परचून की दुकान से गिरफ्तार किया है जहां वह तीन कट्टों में भरकर पटाखों को बेच रहा था।

एसएचओ सुशीला के मुताबिक आरोपी मनीष कुमार उर्फ कन्हैया से मौके पर करीब 50 किलोग्राम पटाखे बरामद किए गए है। आरोपी के खिलाफ थाना एनआईटी फरीदाबाद में द एक्सप्लोसिव एक्ट 1884 की धारा 9बी और आईपीसी 1860 की धारा 188 के तहत मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार किया गया है।

पुलिस के मुताबिक आरोपी से पूछताछ में सामने आया कि आरोपी ने दीवाली के मौके पर ज्यादा मुनाफा कमाने के लिए अपने घर पर दीवाली से पहले ही 70 हजार रूपए के प्रतिबंधित पटाखों का स्टॉक कर लिया था ताकि दीवाली पर उनको बेच कर ज्यादा धन कमा सके। आरोपी ने अभी तक 40 हजार रूपए के पटाखे बेच दिए थे। आरोपी पलवल के किसी अनजान व्यक्ति से पटाखे खरीद कर लाया था। आरोपी को पूछताछ के बाद अदालत में पेश कर नियमानुसार कार्यवाही की गई है।

Related posts

प्रदीप राणा द्वारा लगाए गए नि:शुल्क नेत्र जांच शिविर सैंकड़ों लोगों ने आंखों की जांच करवाई

Metro Plus

रिहायशी नक्शे पर निर्माणाधीन बहुमंजिला कॉमर्शियल बिल्डिंगों के बिल्डर ठेकेदार लगा रहे हैं निगमायुक्त के आदेशों को पलीता। देखें कैसे?

Metro Plus

देश के विकास के लिए मोदी को जिताना है: जगदीश भाटिया

Metro Plus