Metro Plus News
फरीदाबादराजनीतिरोटरीहरियाणा

रोटरी क्लब संस्कार ने थैलासीमियाग्रस्त बच्चों के लिए दिए 21 हजार रूपये

बच्चों की सेवा के लिए हमारा क्लब हमेशा संस्था के साथ रहेगा: गोपाल कुकरेजा
नवीन गुप्ता
फरीदाबाद, 23 नवंबर:
रोटरी क्लब ऑफ फरीदाबाद संस्कार द्वारा थैलासीमियाग्रस्त बच्चों के लिए 21 हजार रूपये का एक चैक फाउंडेशन अगेंस्ट थैलासीमिया के प्रधान रविन्द्र डूडेजा को सौंपा गया। इस अवसर पर क्लब के प्रधान गोपाल कुकरेजा ने संस्था को आश्वासन दिया कि थैलासीमियाग्रस्त बच्चों की सेवा के लिए उनका क्लब हमेशा संस्था के साथ रहेगा और जो भी उचित सेवा होगी वो करेंगे। यह कार्यक्रम सैक्टर-16ए स्थित शिरडी सांई मंदिर में किया गया। इसी अवसर पर विधायक विपुल गोयल विशेष रूप से उपस्थित थे। कार्यक्रम में विधायक विपुल गोयल को बताया गया की किस प्रकार संस्था पिछले 20 सालों से बच्चों के लिए काम कर रही है इस पर उन्होंने कहा की वो भी इन बच्चों के लिए कुछ न कुछ जरूर कुछ करेंगे।
कार्यक्रम में रोटरी क्लब ऑफ फरीदाबाद संस्कार के गोपाल कुकरेजा, चार्टर प्रेजिडेंट दिनेश रघुवंशी, लव कुमार विज, धर्म बरेजा, सूरज चितकारा, विकास मक्कर,संदीप सिंघल, देवेंद्र गर्ग, प्रशांत गोयल, श्रीमती अजय अदलखा, सुनील गुप्ता, पंकज जैन, अजय गोयल व फाउंडेशन अगेंस्ट थैलासीमिया के प्रधान रविंद्र डुडेजा, जेके भाटिया, बी. दास बतरा, हरीश रतरा, अरुण भाटिया, नीरज कुकरेजा, अमरजीत सिंह, पंकज चौधरी, सुजाता गुलाटी, डॉ० एमपी सिंह, दीपक भसीन, गौरव ढींगरा, साजन बतरा, सुरेश परमार व कवि दीपक गुप्ता आदि विशेष तौर पर उपस्थित थे।
गौरतलब रहे कि थैलासीमियाग्रस्त बच्चों का जीवन बचाने के लिए फाउंडेशन अगेंस्ट थैलासीमिया द्वारा जो प्रयास किया गया वह सार्थक होता नजर आ रहा है। यह एक ऐसा कदम था जो हरियाणा तो क्या नार्थ इंडिया में ही पहली बार किया गया है। एक ऐसा प्रयास जिससे बच्चों को जीवनभर रक्त चढ़वाने से छुटकारा मिल सकेगा। जिसके लिए संकल्प इंडिया फाउंडेशन का सहयोग भी रहा।
श्री डूडेजा ने बताया कि थैलासीमियाग्रस्त बच्चों को जीवनभर बार-बार रक्त चढ़वाना पड़ता है। जिसका अगर कोई पक्का इलाज है तो सिर्फ व सिर्फ बोन मेरो अस्थिमज्जा का बदलना। जिसके लिए एचएलए का मिलान होना जरुरी होता है। बच्चे बोन मेरो का मिलान उसके भाई बहन मां बाप से हो पाता है। आज के कार्यक्रम में 15 बच्चों व उनके परिवार के लोगों का बोन मेरो का मिलान किया गया। कुल मिलाकर 50 लोगों का यह टेस्ट किया गया। जिसका खर्चा करीब 6 लाख आना था परंतु संस्था के अथक प्रयासों से संकल्प इंडिया फाउंडेशन द्वारा ये नि:शुल्क किया गया।
श्री डूडेजा के मुताबिक आज लिए गए इन सैम्पलों को जर्मनी भेजा जायेगा जिस की रिपोर्ट 2 माह में आएगी। जिन बच्चों का एचएलए का मिलान हो जायेगा फिर उनका बोनमैरो के लिए प्लान किया जायेगा। जिसका खर्चा भी करीब 15-20 लाख आता है परंतु संकल्प इंडिया फाउंडेशन के सहयोग से काफी काम मूल्य पर बोनेमार्रो हो पायेगा।
इस अवसर पर संकल्प इंडिया फाउंडेशन के रजत अग्रवाल ने बताया की ये मासूम कब तक मौत के साये में जीते रहेंगे। उन्होंने कहा की वो फाउंडेशन अगेंस्ट थैलासीमिया के साथ मिल कर बच्चों के जीवन में हमेशा के लिए खुशिया ही खुशिया भरने की कोशिश करेंगे।
इस अवसर पर संकल्प इंडिया फाउंडेशन की अंकिता से जब ये पूछा गया की आप लोग विदेशो में भी जाकर बच्चों को मिलते हो क्या यहां के बच्चों व दूसरे बच्चों में कोई अंतर नजर आया तो उन्होंने कहा हां यहां के बच्चे बाकी बच्चों के मुकाबले स्वस्थ व खुश नजर आते है जिसके लिए उन्होंने संस्था के सभी कार्यकर्ताओं की जी-भर कर तारीफ की।
आज जिन बच्चों के एचएलए मिलान के लिए नमूने लिए गए उनमें डेजी, रौनक, उपकार, मानव, विकास, निखिल रावत श्रीकांत, माणिक, साक्षी अभी, मोहित उमंग थे।
इस कार्यक्रम को सफल बनाने में शिरडी सांई बाबा सुमंगलम संस्था के वीपी गुप्ता, सुरेश सुखीजा, एमएल गोयल, श्रीमती मन्नूू भार्गव, डॉ० एसपी सिंह, पीएल कुमार व सभी कार्यकारिणी का सहयोग रहा। 3 Sanskar

Vipul MLA (4)

3 Rajat

Related posts

Asha Jyoti Vidyapeeth ने पहली बार कक्षा 10वीं में रचा नया इतिहास

Metro Plus

हरियाली Teej पर Seema Trikha ने एनएच.-2ए ब्लॉक पार्क में किया Plantation

Metro Plus

DC Palwal Yashpal ने पुलिस लाइन में किया पौधारोपण

Metro Plus