Metro Plus News
फरीदाबादराजनीतिहरियाणा

एसजीएम नगर के लगभग 200 घरों को पेयजल संकट से जूझना पड़ेगा।

सोनिया शर्मा
फरीदाबाद, 7 नवंबर:
दीवाली के बाद एसजीएम नगर के लगभग 200 घरों को पेयजल संकट से जूझना पड़ेगा। दरअसल, एसजीएम नगर एफ ब्लॉक में नगर निगम द्वारा पेयजल सप्लाई की कोई लाइन नहीं है। इस संबंध में जब निगम को पेयजल आपूर्ति के लिए कहा तो निगम ने इस पर अपनी असमर्थता जताई। यहीं कारण है कि स्थानीय निवासियों ने जन सेवा समिति रजि० संस्था के नेतृत्व में अपने खर्चे पर वहां ट्यूबवैल का निर्माण कराया। इसके लिए बकायदा उन्होंने जल विभाग से अनुमति भी ली। पिछले कई सालों से इस ट्यूबवैल से कई घरों में पानी सप्लाई हो रहा है तथा इस पर आने वाले खर्च को स्थानीय लोगों द्वारा ही वहन किया जा रहा है। कुछ शरारती तत्वों ने इस बाबत झूठी शिकायत दी कि उक्त लोग पानी का कमर्शियल यूज कर रहे हैं। जिस पर बिना जांच किए निगम ने उक्त ट्यूबवैल को हटाने का एक दिन पहले नोटिस दिया और शुक्रवार को उसे तोडऩे पहुंच गए। स्थानीय लोगों ने इस नोटिस को हाईकोर्ट में चुनौती दी है। जिसमें लोकायुक्त, नगर निगम कमिश्रर व एक अन्य व्यक्ति को पार्टी बनाया गया है। वहीं नगर निगम ने 13 नवम्बर यानि दीवाली बाद ट्यूबवैल तोडऩे की चेतावनी दी है। निगम की इस चेतावनी से स्थानीय लोगों में रोष व्याप्त है। उनका कहना है कि निगम यदि ट्यूबवैल तोडऩा चाहता है तो इससे पूर्व लगभग डेढ़ सौ घरों में पानी की वैकल्पिक व्यवस्था करनी होगी अन्यथा लोग सड़कों पर उतरने पर विवश हो जाएंगे। उन्होंने कहा कि निगम की मनमानी के कारण आम लोग परेशान हो रहे हैं। लोगों को पानी जैसी मूलभूत सुविधा मुहैया कराना निगम की कार्यशैली में सम्मिलित है तथा लोगों का यह अधिकार भी है।
20151106042558

Related posts

सरकार के प्रयास और जनभागेदारी से स्मार्ट सिटी का आईना बनेंगे स्मार्ट पार्क:अमन गोयल

Metro Plus

करण दलाल ही दे सकते हैं भाजपा के गुर्जर को मात: राकेश तंवर

Metro Plus

अमृता अस्पताल में सस्ते और मुफ्त इलाज की सुविधा मिलेगी या नहीं, देखिये क्या कहती हैं अम्माजी?

Metro Plus